सामान्य प्रश्न


नहीं, आपकी निजी जानकारी गोपनीय होती है, अपराधी इसका दुरुपयोग कर आपके साथ अपराध कर सकते है।
निजी जानकारी से तात्पर्य आपकी बैंक खाते की जानकारी, डेविट/एटीएम कार्ड की जानकारी, आधार कार्ड, पेन कार्ड, जन्म दिनांक, ओटीपी (एक बार इस्तेमाल किये जाने वाला पासवर्ड), पिन नम्बर, मोबाइल नम्बर, पासवर्ड, ई-मेल आईडी आदि।
  • अपना पासवर्ड जटिल रखें।
  • पासवर्ड मे अपनी निजी जानकारी न डालें
  • प्रत्येक Account का अलग-अलग पासवर्ड बनाए।
  • पासवर्ड को 8 से ज्यादा अक्षर का बनाए व इसमें Small, Capital व Special characters का भी उपयोग करें।
  • जब भी एटीएम मषीन का उपयोग करें तब किसी अन्य व्यक्ति को एटीएम रूम के अन्दर न आने दे।
  • एटीएम मे कार्ड का उपयोग करते समय ैापउउमत क्मअपबम से सावधान रहें।
  • एटीएम मषीन में अपना पिन नम्बर डाले तो एक हाथ से की-बोर्ड को ढ़क ले।
  • लेनदेन पूर्ण होने के उपरान्त ही एटीएम रूम से बाहर निकलें।
  • अपना कार्ड या पिन नम्बर किसी से भी साझा न करें।
ओटीपी -एक बार इस्तेमाल किये जाने वाला पासवर्ड है जो बैंक द्वारा आपके खाते में पंजीकृत मोबाइल नम्बर पर तब भेजा जाता है जब आप अपने खाते से किसी भी राषि का लेन देन करते है।
ओटीपी कभी किसी को न बताये। कभी कोई बैंक अधिकारी/कर्मचारी , सरकारी अधिकारी/कर्मचारी, अथवा पुलिस आप से आटीपी की जानकारी नही लेते है।
  • सर्वप्रथम बैंक से संपर्क कर अपना कार्ड ब्लॉक करवायें।
  • अपने निकटतम साइबर नोडल थाने से संम्पर्क कर घटना की सूचना दें।
  • धोखाकर ओटीपी लने वाले व्यक्ति का फोन न0 व अन्य जानकारी पुलिस से साझा करें।
  • पुलिस को स्वयं के खाते का बैंक स्टेटमेंट दें।
CVV एक धोखाधडी सुरक्षा सुविधा है। यह कार्ड सत्यापन प्रमाणीकरण हेतु है। यह तीन अंको का नं0 हैं जो कार्ड नं0 के तुरंत बाद कार्ड के पीछे हस्ताक्षर पैनल पर मुद्रित किया जाता है। कभी भी किसी से भी अपना CVV साझा न करें।
किसान चिटफंड कंपनियों के लालच से बचे तथा पैसा दुगना तिगना वाली योजनाओं के लालच में बिल्कुल न आए ऐसी किसी योजना का प्रलोभन देने वाले व्यक्ति की सूचना नजदीकी पुलिस थाने पर अवष्य करे।

फोटो गैलरी